India beat West Indies by 257 runs in second test match

भारत ने वेस्टइंडीज को दूसरे टेस्ट मैच में 257 रन से हरा दिया, भारत ने WI के खिलाफ लगातार 8 वीं सीरीज़ पर कब्ज़ा किया


India beat West Indies by 257 runs

भारत ने T20 ODI और अब Test सीरीज़ पर कब्ज़ा किया टीम इंडिया ने तीनों ही फॉर्मेट में वेस्टइंडीज टीम को घुटने टेकने पर मजबूर कर दिया। वर्ल्डकप टूर्नामेंट खत्म होने के बाद टीम इंडिया विंडीज दौरे पर है और भारत ने यहां शानदार क्रिकेट खेलते हुए तीनों ही फॉर्मेट में ट्रॉफी अपने नाम कर ली है। भारतीय टीम के लिए तीनों फॉर्मेट में जीत मिलना बहुत ही फयदेमंद रहा है। वहीँ दूसरी तरफ विंडीज टीम के लिए सीरीज़ हारना बहुत ही निराशाजनक रहा है। उनके फैंस उनसे इस तरह के प्रदर्शन से नाराज़ है। इस सीरीज़ में जसप्रीत बुमराह ने हैट्रिक विकेट भी अपने नाम किया और टेस्ट मैच जीतने में विराट कोहली ने अपनी कप्तानी में धोनी को पीछे छोड़ दिया तथा विदेशी जमीन पर सबसे ज्यादा टेस्ट मैच जितने वाले कप्तान भी बन गए। इनसे पहले सौरव गांगुली ने विदेशी जमीन पर 11  टेस्ट मैच अपनी कप्तानी में जीते थे अब कोहली उन्हें पीछे छोड़ चुके हैं। दूसरे टेस्ट मैच में भारतीय युवा खिलाड़ी हनुमा विहारी को प्लेयर ऑफ़ द मैच चुना गया है। इन्होंने दूसरे मैच की पहली पारी में शतक लगाया और दूसरी पारी में अर्धशतकीय पारी खेली थी । 

भारत ने जमैका में खेले गए दो टेस्ट मैच की सीरीज़ के दूसरे मैच में चौथे दिन (रविवार) वेस्टइंडीज को 257 रन से मात दे दी। इसी के साथ टीम इंडिया ने टेस्ट सीरीज़ 2-0 से जीत ली। यह पहली बार है, जब भारत ने विंडीज टीम को लगातार चार टेस्ट मैच हराए। इससे पहले 2013 से 2016 के बीच टीम इंडिया ने विंडीज को लगातार तीन टेस्ट हराए थे। वेस्टइंडीज के खिलाफ भारत की यह लगातार आठवीं टेस्ट सीरीज़ की जीत है। 2002 के बाद से ही टीम इंडिया के खिलाफ टीम वेस्टइंडीज टेस्ट सीरीज़ जीतने में असफल रही है। 

भारत ने पहली पारी में ली थी 299 रन की बढ़त

भारत ने पहली पारी में हनुमा विहारी के शतक और इशांत शर्मा के अर्धशतक की बदौलत 416 रन बनाए थे। इसके बाद बल्लेबाजी के लिए उतरी वेस्टइंडीज की पूरी टीम पहली पारी में 117 रन पर ऑलआउट हो गई थी। भारत के लिए जसप्रीत बुमराह ने हैट्रिक समेत छह विकेट हासिल किए। इस तरह पहली पारी में भारत को विंडीज पर 299 रन की बढ़त मिल गई थी। 

दूसरी पारी में 210 पर ऑल आउट हुई विंडीज टीम

भारत ने दूसरी पारी 168/4 के स्कोर पर ही घोषित कर दी थी। इस तरह विंडीज टीम को 468 रन का लक्ष्य मिला था। दूसरी पारी में विंडीज टीम की शुरुआत कुछ खास नहीं रही। उसके दोनों सलामी बल्लेबाज ब्रैथवेट और कैम्पबेल जल्दी आउट हो गए। रोस्टन चेज और शिमरॉन हेटमायर 100 रन से पहले ही अपने विकेट गंवा बैठे। कप्तान जेसन होल्डर (39) ने कुछ संघर्ष किया। लेकिन जडेजा ने उन्हें आउट कर विंडीज की पारी समेट दी। जडेजा और शमी ने दूसरी पारी में 3-3 विकेट लिये। 

पहली बार एक पारी में टीम के लिए 12 खिलाड़ियों ने की बल्लेबाजी

वेस्टइंडीज के लिए दूसरी पारी में 12 बल्लेबाजों ने बैटिंग की। दरअसल, डैरेन ब्रावो मैच के बीच में रिटायर्ड हर्ट हो गए। इसके बाद जब वो मैदान पर नहीं लौट पाए तो उनकी जगह जर्मेन ब्लैकवुड को कॉन्कशन सब्सटीट्यूट के तौर पर बल्लेबाजी के लिए उतारा गया। टेस्ट इतिहास में यह पहला मौका है जब किसी टीम से एक ही पारी में 12 खिलाड़ियों ने बल्लेबाजी की है। 

टेस्ट मैच जीतने में कोहली ने धोनी को पीछे किया

कोहली की कप्तानी में भारतीय टीम ने 48 टेस्ट में 28वीं जीत हासिल की। इस जीत के साथ ही वे भारत के सबसे सफल कप्तान बन गए। इससे पहले पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी में भारतीय टीम 60 में से 27 टेस्ट जीती थी। विदेशी जमीन पर भी जीत के मामले में भी कोहली भारत के सबसे सफल कप्तान हैं। उनकी कप्तानी में टीम विदेश में अब तक 13 टेस्ट जीत चुकी है। गांगुली का रिकॉर्ड विदेश में 11 जीत का था। 

पंत के नाम 11 टेस्ट में 50 डिसमिसल

दूसरी पारी में विंडीज के बल्लेबाज क्रेग ब्रैथवेट का कैच लेते ही ऋषभ पंत महज 11 टेस्ट में ही 50 बल्लेबाजों को अपना  शिकार बनाने वाले विकेटकीपर बन गए। उनसे आगे सिर्फ मार्क बाउचर, जॉनी बेयरस्टो और टिम पेन हैं, जिन्होंने 10 टेस्ट में यह उपलब्धि हासिल की। वहीं एडम गिलक्रिस्ट ने अपने 11वें टेस्ट में 50 विकेट का रिकॉर्ड बनाया था। भारत के लिए इससे पहले महेंद्र सिंह धोनी ने 15 टेस्ट में 50 बल्लेबाजों को अपना  शिकार बनाया था। 

दूसरी पारी में रहाणे-विहारी ने दिखाया शानदार खेल

दूसरी पारी में भारत की शुरुआत खराब रही। टीम के चार विकेट जल्दी गिर गए। हालांकि, इसके बाद उपकप्तान अजिंक्य रहाणे (64) और हनुमा विहारी (53) ने शानदार खेल दिखाते हुए अपने-अपने अर्धशतक पूरे किए और टीम को 150 रन के पार पहुंचाया। इस दौरान दोनों के बीच शतकीय साझेदारी भी पूरी हुई।

बुमराह ने हैट्रिक ली

इससे पहले बुमराह ने पहली पारी में हैट्रिक समेत कुल 6 विकेट लिये। यह उनके कैरियर की पहली हैट्रिक रही। टेस्ट में वे ऐसा करने वाले तीसरे भारतीय बन गए। इससे पहले हरभजन सिंह और इरफान पठान ने हैट्रिक विकेट लिए थे।

Comments

Popular posts from this blog

AUS vs BAN Dream11 Team Prediction, WorldCup 2019, Team News, Playing 11

AFGH vs WI Dream11 Team Prediction, Worldcup 2019, Team News, Playing 11

ENG vs SL Dream11 Team Prediction, WorldCup 2019, Team News, Playing 11